अपना जीवन अपना अधिकार

अपना जीवन अपना अधिकार

जो हमसे दुर्बल है उसका अपने उपयोग के लिए शोषण करना अमानवीय हरकत है। जब पुरुष औरतों को दुर्बल मानते हैं तो उसका शोषण करते हैं, जब जानवरों को दुर्बल मानते हैं तो अपने स्वाद के लिए उसे नोच-नोच कर खा जाते हैं। दूसरों का शोषण ही पुरुषार्थ बन जाता है। औरतों के साथ अजीब …

अपना जीवन अपना अधिकार Read More »