Home » help shairi

help shairi

मदद पर शायरी

मदद पर शायरी

किसी को कैसे बताएं ज़रूरतें अपनीमदद मिले ना मिले आबरू तो जाती हैनामालूम हम चराग़ों की मदद करते रहेऔर इधर सूरज बुझा डाला गयामनीष शुक्ला हमारे ऐब में जिससे मदद मिले हमकोहमें है आजकल ऐसे किसी हुनर की तला...