Home » biswas shayari

biswas shayari

परिक्षा पर शायरी

परिक्षा पर शायरी

परिक्षा पर शायरी कैसी हैं आज़माईशें कैसा ये इमतिहान हैमेरे जुनूँ के वास्ते हिजर की एक रात बसअफ़ीफ़ सिराज हम तो तेरी कहानी लिख आएतूने लिखा है इमतिहान में क्याज़िया ज़मीर वहशतें इशक़ और मजबूरीक्या किसी ...