Home » 2 लाइन शायरी इन हिंदी love

2 लाइन शायरी इन हिंदी love

ghazal/shairi

मसरूफ़ियत पर शायरी

मुहब्बत में कमी आने लगी हैउसे मसरूफ़ियत खाने लगी हैशाहिदा मजीद मसरूफ़ियत उसी की है फ़ुर्सत उसी की हैइस सरज़मीन-ए-दिल पे हुकूमत उसी की हैरिहाना रूही गाह मसरूफ़ियत सुलग उठेगाह तन्हाई-ओ-फ़राग़ जलेअख़तर ज़ि...