Home » Blog » अमित शाह ने रिजल्ट के पहले ही पंजाब में हार स्वीकार की

अमित शाह ने रिजल्ट के पहले ही पंजाब में हार स्वीकार की

up election
up election

Thinkerbabu न्यूज़ डेस्क द्वारा
05 मार्च 2022

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में आखिरी चरण के चुनाव प्रचार की गति आज शाम रुक गई। 7 मार्च को राज्य में आखिरी चरण का मतदान होना है। इसके साथ ही राज्य की सियासी धड़कन तेज हो गई है। इस बीच आज शनिवार शाम भाजपा के दो बड़े नेता गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमित शाह ने पंजाब को लेकर कही ये बड़ी बात

इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमित शाह राज्यवार अपनी पार्टी की चुनावी स्थिति और कैम्पेन के बारे में जानकारी दे रहे थे। इसी क्रम में उन्होंने पंजाब को लेकर एक बड़ी बात कह दी। उन्होंने कहा कि पंजाब में भाजपा एक बड़ी पार्टी के रूप में उभरेगी। लेकिन हम 4 राज्यों में चुनाव जीत रहे हैं। उन्होंने जिन 4 राज्यों में जीत का दावा किया है उनमें पंजाब का नाम शामिल नहीं है। उल्लेखनीय है कि 10 मार्च को उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर इन पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव का परिणाम घोषित किया जाएगा। हालांकि अमित शाह ने पंजाब को छोड़कर शेष सभी 4 राज्यों में जीत का दावा किया है। पंजाब के चुनावी परिणाम के बारे में उन्होंने कहा कि यहां भाजपा पहले से बेहतर प्रदर्शन करेगी।

क्या भाजपा पंजाब के चुनाव को त्रिकोणीय टक्कर में बदल पाएगी ?

आज भाजपा के प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद तो यह कहना मुश्किल हो गया कि पंजाब में त्रिकोणीय मुकाबला है, वहां भाजपा, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच मुकाबला है। क्योंकि आज जिस तरह अमित शाह ने प्रेस कांफ्रेंस में पंजाब में अपनी हार को स्वीकार किया उससे तो यही कहा जा सकता है कि मुख्य लड़ाई कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच में है। इस बार वहां आम आदमी पार्टी कांग्रेस को कड़ी टक्कर दे रही है।

4 राज्यों में सरकार बनाने का किया दावा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस में हम उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में फिर से सरकार बनाने के दावा किया है। पार्टी को पूरी उम्मीद है कि इन चार राज्यों में भाजपा की।सरकार बरकरार रहेगी। वे उत्तर प्रदेश के चुनावी परिणाम के प्रति पूर्ण रूप से आश्वस्त दिखाई दिए। उन्होंने UP में योगी सरकार की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस सरकार ने अपने संकल्प पत्र के हिसाब से 92% से ज्यादा काम पूरा करके दिखाया है। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार में सबसे अधिक गरीब कल्याण की योजनाएं चलाई है। इनकी सरकार के पूरे पांच साल के कार्यकाल में एक भी दंगे नहीं हुए। यह अनुशासित कानून व्यवस्था का ही परिणाम है।

Read More

Pawan Toon Cartoon

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>