World Icon

No items found.

Shayari (Hindi Kavita & Ghazal)

वरुन आनन्द की ग़ज़ल

वरुन आनन्द की ग़ज़ल

ग़ज़ल वरुन आनन्द वो जिसके पाँव में रक्खे हों काइनात के फूलक़ुबूल कैसे करेगा वो मेर...