Home » Blog » जानिए, यूपी चुनाव के छठे चरण का लेखा-जोखा!

जानिए, यूपी चुनाव के छठे चरण का लेखा-जोखा!

जानिए, यूपी चुनाव के छठे चरण का लेखा-जोखा!
जानिए, यूपी चुनाव के छठे चरण का लेखा-जोखा!

नाज़िश खान

02 मार्च 2022

लखनऊ, यूपी विधान सभा चुनाव 2022 के पाँच चरण बाद अब सबकी नजर छठे चरण (Sixth phase of UP elections) पर है, 10 सीटों की 57 सीटों पर 3 मार्च को मतदान होगा, जिसमें बलिया, गोरखपुर, बलरामपुर, देवरिया, कुशीनगर, सिध्दार्थ नगर, संतकबीर नगर, महराजगंज, बस्ती और अंबेडकर नगर में 676 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमाएंगे। गोरखपुर विधान सभा क्षेत्र से मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ प्रत्याशी है।

गोरखपुर भाजपा का गढ रहा है

बता दें, शहर गोरखपुर भाजपा का गढ रहा है तथा योगी आदित्यनाथ 5 बार सांसद रहें है। 2017 के विधान सभा चुनाव में भाजपा से डाँ. आरएमडी अग्रवाल को प्रत्याशी बनाया था जिनके विपक्ष नें सपा और कांग्रेस ने गठबंधन कर संयुक्त प्रत्याशी के रूप में राणा राहुल सिंह को चुनाव के मैदान में उतारा था, जिसमें बीजेपी ने करीब 62 हजार वोट से जीत हासिल की थी। इससे पहले बीजेपी ने 2002 से 2012 तक के विधान सभा चुनाव में लगातार जीत हासिल की थी। गोरखपूर शहर से योगी के विपक्ष मे सपा ने सभावती शुक्ला को प्रत्याशी बनाया है, कांग्रेस ने चेतना पांडेय और बसपा ने ख्वाजा शमसुद्दीन को चुनावी मैदान मे उतारा है। गौरतलब है कि गोरखपुर शहर में गोरक्षपीठ का गहरा प्रभाव है , गोरखनाथ मठ इसी शहर से है और मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ गोरक्षपीठाधीश्वर है।

बलिया में भी रोचक मुकाबला (Sixth phase of UP elections)

बात करें बलिया के फेफना विधान सभा सीट (Sixth phase of UP elections) से बसपा यादव वोट को समेटने की कोशिश कर रही है, क्योकि यहां 65 हजार वोट बैंक यादव समाज का है, 2012 और 2017 से लगातार बीजेपी से प्रत्याशी उपेंद्र तिवारी जीत रहे है, राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार उपेंद्र तिवारी को टक्कर देने के लिए सपा ने संग्राम यादव को प्रत्याशी बनाकर तगङी घेराबंदी की है, तो वही कांग्रेस ने जैनेंद्र पांडय को टिकट देकर ब्राहृण वोट को अपनी ओर करने का इरादा किया है।

बात करें बलिया शहर विधान सभा की तो वहा पर तीखी जंग सपा और बीजेपी में है। सपा ने पूर्व मंत्री नारद राय को मैंदान में उतारा है। नारद राय पिछले चुनाव में बसपा के साथ थे। सपा के विपक्ष मे बीजेपी ने दयाशंकर सिंह को मैदान में उतारा है तो वही बसपा से नया चेहरा एंव व्यापारी शिवदास उर्फ मदन वर्मा को टिकट दिया है और कांग्रेस ने ब्राहृण वोट बटोरने के लिए ओपी तिवारी को चुनावी मैदान में उतारा है। बलिया के बैरिया विधान सभा क्षेत्र से बीजेपी ने ब्राहृण चेहरा आनंद स्वरूप को मैदान में उतारा है, 2017 में भी बीजेपी की लहर थी। सुरेंद्र सिंह ने बैरिया की सीट जीती थी। आनंद स्वरूप को टक्कर देने के लिए सपा ने पुराने सिपह सालार पूर्व विधायक जय प्रकाश ऐंचल को मैदान में उतारा है। कांग्रेस ने युवा चेहरा सोनम को टिकट दी है और वीआईपी ने सुरेंद्र सिंह को चेहरा बना कर मैदान में उतारा है। बलिया की रसङा विधान सभा सीट हाँट सीट में शुमार है।

रसङा में बसपा की लहर है बसपा को टक्कर देने के लिए (Sixth phase of UP elections) भाजपा ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। भाजपा ने पूर्व सांसद बब्बन राजभर को मैदान में उतारा है, इस क्षेत्र में एससी वोट लगभग 90 हजार है और लगातार दो बार बसपा से उमाशंकर इस सीट पर कब्जा किए है ,इस बार भी उमा शंकर मैदान में उतरे है औऱ सपा का इस सीट पर अभी तक खाता नही खुला है और वही कांग्रेस ने डा. ओमलता को प्रत्याशी बना कर अनुसूचित जातिय मतों को अपनी ओर करने के लिए मैदान में उतारा है।

आपको बता दें, बलिया के बासङी विधान सभा क्षेत्र में रामगोविंद चौधरी को मैदान में उतारा है, 2017 के विधान सभा चुनाव में भी सपा ने रामगोविंद को प्रत्याशी बनाया था, रामगोविंद ने बीजेपी से खङी केतकी सिंह को 1,687 वोट से हराया था इसलिए भी बीजेपी ने केतकी सिंह को टिकट दिया है और वही 55 हजार राजभर समाज को अपनी ओर करने के लिए बसपा ने मानती राजभर को चेहरा बनाया है ।

Must Read



Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>