बच्चों में गठिया की समस्या

बच्चों में गठिया की समस्या की न करें अनदेखी

जुवेनाइल आर्थाइटिस (गठिया) के लक्षण 16 साल से कम उम्र के बच्चों में जोड़ों में दर्द व सूजन के रूप में दिखते हैं । आमतौर पर ऐसा आनुवंशिक और पर्यावरण से जुड़े कारकों से हो सकता है । किन बातों को जानना जरूरी है , बता रहे हैं डॉ . सोमेश विरमानी

बच्चों में गठिया की समस्या को जुवेनाइल आथ्रइटिस कहा जाता है । ये एक सामान्य तरह की मस्कुलोस्केलेटल समस्या है , जो 16 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को प्रभावित करती है । इस स्थिति में बच्चों के शरीर में मौजूद प्रतिरक्षा प्रणाली अपनी ही स्वस्थ कोशिकाओं पर हमला शुरू कर देती है । कुछ आनुवंशिक और पर्यावरणीय कारकों से ये हो सकता है ।

इस बीमारी के लक्षण

इस स्थिति में बच्चों का कोई एक जोड़ या कई अन्य जोड़ प्रभावित हो सकते हैं । जोड़ों में लगातार दर्द बना रहता है , जकड़न का एहसास होता है । खासकर , सुबह में या देर तक बैठे रहने के बाद ऐसा होता है । सूजन से त्वचा पर , छाती पर लाल या गुलाबी रंग के चकत्ते दिखाई देते हैं , बुखार रहता है , लिम्फ नोड में सूजन आ जाती है , चलने – फिरने में समस्या तथा कमजोरी इसके मुख्य लक्षणों में से हैं । उपचार न कराने पर आंखों में सूजन , मोतियाबिंद , ग्लूकोमा , यहां तक कि अंधापन भी हो सकता है । हड्डियों के विकास में भी बाधा आती है

कैसे करें प्रबंधन

  • समय पर दवा लेनाः शुरू में दर्द व सूजन घटाने के लिए नॉन – स्टेरॉयडल एंटी इन्फ्लेमेटरी ड्रग्स दी जाती हैं ।
  • व्यायामः व्यायाम से जोड़ सक्रिय और लचीले रहते हैं । वजन काबू में रहता है । अच्छी नींद आती है और तनाव कम होता है । तैराकी , साइक्लिंग , योग , स्ट्रेचिंग आदि बढ़िया व्यायाम हैं । आइसोमेट्रिक व्यायाम से बिना जोड़ों पर दबाव पड़े मांसपेशियां मजबूत बनती हैं । इनमें प्लैंक , स्क्वैट्स , वॉल सिट और लेग एक्सटेंशन प्रमुख हैं । आइसोटोनिक व्यायाम से मांसपेशियों और जोड़ों में गतिशीलता आती है । इनमें एरोबिक डांसिंग , तैराकी , वॉकिंग शामिल हैं ।
  • कोल्ड एवं हॉट पैक : खासकर सुबह के दर्द और सूजन में इससे आराम मिलता है । पर्याप्त आराम भी करें ।
  • संतुलित आहार : विटामिन डी और फाइबरयुक्त चीजें खिलाएं । चीनी का इस्तेमाल कम करें । ताजा फल , सब्जियां , साबुत अनाज खाएं । (लेखक मेदांता हॉस्पिटल में वरिष्ठ हड्डी रोग विशेषज्ञ हैं )

Courtesy Hindustan News Paper

Learn More

Leave a Comment

Your email address will not be published.