Home » Hindi Story

Hindi Story

कहानी (story ) कहना सुन्ना तो हमारे जीवन का अभिन्य अंग है। हर ज़माने और हर दौर में कहानियाँ कही जाती रही हैं। thinkerbabu.com पर आपको बेहतरीन कहानियाँ पढ़ने के लिए मिलेंगी। हमारी वेबसाइट के साथ जुड़े रहिये और दोस्तों के साथ साझा भी कीजिये।

महिला का जीवन

पुरुष की अधीनता ही महिला का जीवन!

लेखक: नेहा कथूरिया एक महिला की पूरी ज़िन्दगी हमेशा अधीनता में गुज़रती है। जब एक लड़की छोटी होती है, तो वो अपने पिता के अधीन होती है, जब वो किशोरी अवस्था में आती है तो भाई के अधीन और शादी के बाद अपने क...

ASP Deepak Sharma

रियल लाइफ से लेकर रील लाइफ तक निभा रहे सिंघम की भूमिका निभा रहे ASP दीपक शर्मा

तिहाड़ जेल में तैनात ASP दीपक शर्मा (ASP Deepak Sharma) अपने रियल लाइफ से लेकर रील लाइफ तक सिंघम की भूमिका निभा रहे हैं। अपने बहुआयामी व्यक्तित्व के कारण दीपक जेलर की कठोर नौकरी करने के साथ-साथ फ़िल्म...

आशुतोष

काशीराम ने पत्रकार आशुतोष को मारा था थप्पड़!

बड़ा रोचक वाक़िया है बीएसपी संस्थापक कांशीराम के जीवन से जुड़ा। कांशीराम अपने समय मे देश के सर्वाधिक लोकप्रिय दलित नेता माने जाते थे। कहा जाता है कि मायावती को राजनीति में लाने वाले और उन्हें मुख्यमंत्री...

लंका क्यों नष्ट हुई

लंका क्यों नष्ट हुई?

लंका, इसलिए नष्ट हुई क्योंकि वहाँ लंकेश की आलोचना को अपराध माना गया और रामराज्य इसलिए ख्यात हुआ क्योंकि वहाँ आम धोबी को भी राजा के आचरण पर प्रश्न पूछने का अभय था।पुराण साक्षी है, कि जब भी कोई विभीषण श...

हिंदी सिनेमा

फिल्में जिनकी अब शायद आवाजें भर बची हैं

सत्तर का दशक हिंदी सिनेमा में दिलचस्प बदलाव लेकर आया था। कामर्शियल ट्रेंड सेटर से लेकर समांतर सिनेमा आंदोलन को गति देने वाली फिल्में इसी दशक के आरंभिक वर्षों में आईं। लेकिन उन सालों में बहुत सी ऐसी फि...

इस्मत चुग़ताई

इस्मत चुग़ताई

लेखक: अब्दुल गफ़्फ़ार इस्मत चुग़ताई मेरी बेहद पसंदीदा उर्दू लेखिका रही हैं. आज उनका जन्म दिवस है. उन्होंने अफ़साने, कहानियों और उपन्यास लेखन में बड़ा नाम कमाया. राशीदा जहां, वाजिदा तबस्सुम और क़ुरात-उल-...

पेड़ पर शायरी

कुन्दन

बेगम और बच्चे सीज़न के लिए नथैया गली रवाना हुए, प्लान के मुताबिक़मुझे भी दो दिन के बाद उनसे जा मिलना था , मगर मिनिस्टर साहिब के दौरे की वजह से सब सरकारी नौकरीयों वालों की छुट्टियाँ रद्द कर दी गईं तो म...

जान की परवाह नहीं करती सरकार !

‘सेन्ट्रल विस्टा प्रोजेक्ट’ से अब शायद ही कोई हिंदुस्तानी अनजान हो! देश को अब नई संसद मिलने वाली है। सरकार का मानना है कि अभी का  संसद भवन अब सुरक्षित नहीं है। दरअसल, अंग्रेजों ने इस संसद ...